Sunday, July 5, 2015

 युग चेतना की चितेरी सभासद
अखिल भारतीय साहित्य परिषद्

गति मति यति शब्द की साधिका
राष्ट्र संस्कृति धर्म आराधिका
सौम्य शील करुणा की काम्या
वर्तमान भारत की ऋषि संसद

युग चेतना की चितेरी सभासद
अखिल भारतीय साहित्य परिषद

अखिल विश्व की वसु वाहिनी
वीणापाणि सुतों की प्रिय धारिणी
जगतारिणी , न्याय का करुण पद
साधना ज्ञान वैभव की आभा वृहद

> युग चेतना की चितेरी सभासद
> अखिल भारतीय साहित्य परिषद्

समत्व  रसिकत्व की उद्गाता
क्रांति अवगाहकों की विधाता
शुभ सत कामिनी लेखनी सर्जना
अमृता, अर्पिता , दिव्या-विशद

युग चेतना की चितेरी सभासद
अखिल भारतीय साहित्य परिषद


महामना
जगदीश गुप्त


No comments:

Post a Comment

LinkWithin

विजेट आपके ब्लॉग पर